PM Modi ने अबू धाबी में किया पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन, वैश्विक नेताओं को भी किया संबोधित

PM Modi ने अबू धाबी में पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन किया, वैश्विक नेताओं को भी संबोधित किया - PM Modi inaugurated the first Hindu temple in Abu Dhabi, also addressed global leaders

https://pmmodi.onlinenews.live/2024/02/pm-modi-uae-visit-will-inaugurate-baps-hindu-temple-in-abu-dhabi-on-14th-february.html

PM Modi News: 14 फरवरी 2024 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इतिहास रच दिया. उन्होंने अबू धाबी में पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन किया। यह न केवल भारत और UAE के संबंधों के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण था, बल्कि दुनिया भर के हिंदुओं के लिए भी एक ऐतिहासिक घटना थी।

मंदिर के बारे में

"बोचासनवासी श्री अक्षर पुरूषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (BAPS)" मंदिर के नाम से जाना जाने वाला यह मंदिर 15,000 वर्ग मीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। यह मंदिर 5000 साल पुरानी भारतीय वास्तुकला से प्रेरित है और इसमें भगवान स्वामीनारायण, भगवान राम, भगवान कृष्ण और अन्य हिंदू देवताओं की मूर्तियाँ हैं।

पीएम मोदी का दौरा

मंदिर का उद्घाटन करने के बाद PM Modi ने भाषण दिया. उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात में रहने वाले भारतीय समुदाय की सराहना की और कहा कि यह मंदिर भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच मजबूत संबंधों का प्रतीक है।

वैश्विक नेताओं का सम्मेलन

मंदिर के उद्घाटन के बाद PM Modi ''वैश्विक नेताओं के सम्मेलन'' में शामिल हुए. सम्मेलन में संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान और संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस सहित दुनिया भर के कई महत्वपूर्ण नेताओं ने भाग लिया।

सम्मेलन में पीएम मोदी का भाषण

सम्मेलन में PM Modi ने जलवायु परिवर्तन, आतंकवाद और गरीबी जैसी वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए मिलकर काम करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि भारत इन चुनौतियों का सामना करने के लिए पूरी तरह तैयार है.

PM Modi का इंस्टाग्राम पोस्ट

PM Modi ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर मंदिर के उद्घाटन और सम्मेलन में भाग लेने की तस्वीरें पोस्ट कीं। उन्होंने लिखा कि ''यह यात्रा भारत और यूएई के बीच संबंधों को मजबूत करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम था।''

निष्कर्ष

PM Modi की अबू धाबी यात्रा भारत और UAE के संबंधों के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण था। मंदिर का उद्घाटन और वैश्विक नेताओं का सम्मेलन दोनों देशों के बीच मजबूत संबंधों का प्रतीक है। इस दौरे के दौरान पीएम मोदी ने जो भाषण दिए, उनमें उन्होंने वैश्विक चुनौतियों के समाधान के लिए मिलकर काम करने का आह्वान किया.

आपको यह ब्लॉग पोस्ट कैसा लगा? हमें टिप्पणियों में बताएं।

Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url